Hindi Shayari

Rahat Indori Shayari Collection | राहत इंदौरी की मशहूर शायरी

Rahat Indori Shayari Collection : राहत इंदौरी की मशहूर शायरी के इस बेस्ट Collection में आपका स्वागत है दोस्तों अगर आप rahat indori status, famous poetry of rahat indori, राहत इंदौरी की शायरी खोज रहे हैं तो यह पोस्ट ख़ास आपके लिये ही है, हम यहाँ पर राहत इंदौरी की मशहूर शायरी का बेहतरीन कलेक्शन साझा कर रहे हैं, जिसे आप अपने Facebook, Whatsapp, Pinterest और Instagram पर भी शेयर कर सकते हैं।

Rahat Indori Shayari

Rahat Indori ShayariRahat Indori Shayari Image

हाथ ख़ाली हैं तेरे शहर से जाते जाते, जान होती तो मेरी जान लुटाते जाते, अब तो हर हाथ का पत्थर हमें पहचानता है, उम्र गुज़री है तेरे शहर में आते जाते।

बुलाती हैमगर जाने का नईं ।ये दुनिया है इधर जाने का नईं ।

शाखों से टूट जाए वो पत्ते नहीं है, आँधी से कोई कह दे आँधी से के औकात में रहे।

मोड़ होता है जवानी का सँभलने के लिए, और सब लोग यहीं आ के फिसलते क्यूं हैं।

हम से पहले भी मुसाफ़िर कई गुज़रे होंगे, कम से कम राह के पत्थर तो हटाते जाते।

इन रातों से अपना रिश्ता जाने कैसा रिश्ता है, नींदें कमरों में जागी हैं ख़्वाब छतों पर बिखरे हैं।

जागने की भी, जगाने की भी, आदत हो जाए, काश तुझको किसी शायर से मोहब्बत हो जाए।

अब हम मकान में ताला लगाने वाले हैं, पता चला हैं की मेहमान आने वाले हैं।

लोग हर मोड़ पे रूक रूक के संभलते क्यूँ है, इतना डरते है तो घर से निकलते क्यूँ है।

ये ज़रूरी है कि आँखों का भरम क़ाएम रहे, नींद रक्खो या न रक्खो ख़्वाब मेयारी रखो।

राहत इंदौरी की मशहूर शायरी

फूलों की दुकाने खोलो , खुसबू का व्यापार करो, इश्क़ खता है तो, इसे एक बार नहीं सौ बार कर।

Haath Khali Hain Tere Shahar Se Jate Jate, Jaan Hoti Toh Meri Jaan Lutate Jate, Ab Toh Har Haath Ka Patthar Humein Pehchanta Hai, Umr Gujri Hai Tere Shahar Mein Aate Jate.

जुबां तो खोल, नजर तो मिला, जवाब तो दे, मैं कितनी बार लुटा हूँ, हिसाब तो दे।

रोज़ तारों को नुमाइश में ख़लल पड़ता है, चाँद पागल है अँधेरे में निकल पड़ता है।

फूक़ डालूगा मैं किसी रोज़ दिल की दुनिया, ये तेरा ख़त तो नहीं है की जला भी न सकूं।

सूरज-  सितारे, चाँद मेरे साथ में रहें, जब तक तुम्हारे हाथ मेरे हाथ में रहें।

Rahat Indori romantic shayari

इसे तूफां ही किनारे से लगा देते हैं, मेरी कश्ती किसी पतवार की मोहताज नहीं।

Esi sardi hai ki suraj bhi duhai mange, Jo ho pardesh me wo kisse rajai mange.

जो तौर है दुनिया का उसी तौर से बोलो, बहरों का इलाक़ा है ज़रा ज़ोर से बोलो।

Use ab ke wafao se guzar jane ki jaldi thi, Magar is baar mujh ko apne ghar jane ki jaldi thi, Main aakhir kaun sa mausam tumhare naam kar deta, yaha har ek mosam ko guzar jane ki jaldi thi.

शहरों में बारूदों का मौसम है, गांव चलो ये अमरूदों का मौसम है।

Maine apni khushk aankho se lahoo chalka diya, ik samandar keh raha tha mujhko pani chahiye.

सब प्यासे हैं सबका अपना ज़रिया है, बढ़िया है, हर कुल्हड़ में छोटा-मोटा दरिया है, बढ़िया है।

Unki galiyo se na jane kitne guzar gae, Aashiq bad tamiz  the unke na jane kitne sudhar gae, kher mohabbat to ham bahut sadgi se karte the unse, na jane kab ham unki galiyo se bhi mohabbat karne lag gae.

सलिक़ा जिनको सिखाया था हमने चलने का, वो लोग आज हमें दायें-बायें करने लगे।

Pyaar me jaruri to nahi k use bhi pyar ho tumse, Pyar agar ek tarfa ho to pyar ka maza hi ek tarfa hota hai.

Rahat Indori best hindi shayari

राज़ जो कुछ हो इशारों में बता भी देना, हाथ जब उससे मिलाना तो दबा भी देना।

Jaa ke koi kah de, sholon se chingaari se,Phool is bar khile hain badi taeyari se, Baadshaahon se bhi feke hue sikke na liye, Humne khaeraat bhi maangi hain to khuddari se.

सिर्फ खंजर ही नहीं आंखों में पानी चाहिए, ए खुदा दुश्मन भी मुझको खानदानी चाहिए।

Lave deeyon ki hawa mein, uchhalte rahnaGulo ke rang pe tezab daalte rahna,Mein noor ban ke jamaane mein fel jaaunga,Tum aaftaab mein keede nikalte rahna.

भूलना भी हैं, जरुरी याद रखने के लिए, पास रहना है, तो थोडा दूर होना चाहिए।

Roj Taaron Ki Numaaish Mein Khalal Padta Hai, Chand Pagal Hai Andhere Mein Nikal Padta Hai, Roj Patthar Ki Himayat Mein Ghazal Likhte Hain, Roj Sheeshon Se Koi Kaam Nikal Padta Hai.

आग के पास कभी मोम को लाकर देखूं, हो इज़ाज़त तो तुझे हाथ लगाकर देखूं।

Maza Chakha Ke Hi Maana Huun Main Bhi Duniya Ko, amajh Rahi Thi Ki Aise Hi Chhoḍ Dunga Use.

ऐसी सर्दी है कि सूरज भी दुहाई मांगे, जो हो परदेस में वो किससे रज़ाई मांगे।

यह भी पढ़ें-

Related Articles

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button