Aankhen Shayari

Best Eyes Shayari – आँखों पर शायरी

We have published latest Eyes Shayari In Hindi, Aankho Par Bahetrin Shayari, nazar shayari, Shayari On Eyes and many more आँखों पर बहेतरीन शायरी at Shayariyaar.

Eyes Shayari

Eyes Shayari

जो सूरुर है तेरी आँखों में वो बात कहां मैखाने में,
बस तू मिल जाए तो फिर क्या रखा है ज़माने में.

समज नहीं सकते आँखों की गहराई को
होठो से कुछ कह नहीं सकते
ये दिल कैसे बया करे ये हाल
तुम्ही हो जिसके बगैर हम रह नहीं सकते..

आँखों को पढ़ना सिख लो अगर
कुछ सीखना ही हे तो
वरना लफ्जो में मतलब तो
हजारो निकाल लेते हैं..

महफूज रखना चिरागो को आँखों में
बड़ी दूर तक रात ही रात होंगी
मुसाफिर हो तुम मुसाफिर हे हम
किसी मोड़ पर फिर मुलाकात होंगी..

उनकी आँखों से जो लफ्ज बया होते हे
वो शायरी में कहा होते हैं.

मुझे तेरी हर निशानी प्यारी हे
फिर चाहे वो दिल का दर्द
हो या आँखों का पानी.

तेरी खूबसूरत आँखों में इश्क के
फूल खिलते हे
जहा देखे एक नजर वहा खुश्बू
बिखर जाए.

Aankhein Shayari In Hindi

Aankhein shayari in hindi

पैगाम लिया है कभी पैगाम दिया है,
आँखों ने मोहब्बत में बड़ा काम किया है.

उदास आँखों में अपनी करार देखा है
पहली बार उसे बेक़रार देखा है
जिसे खबर ना होती थी मेरे आने जाने की
उसकी आँखों में अब इंतज़ार देखा है.

खिलते हैं फूल इश्क के
तेरी इन खूबसूरत आँखों में
जहाँ देख ले ठहर के तू बस एक नजर
महक जाए वो जगह किसी बागबाँ की तरह.

एक नजर देख ले हमे जीने की इजाजत दे दे
ए रुठने वाले….. वो पहली सी मोहब्बत दे दे..

इकरार में शब्दों की एहमियत नहीं होती
दिल के जज़्बात की आवाज़ नहीं होती
आँखें बयान कर देती है दिल की दास्तान
मोहब्बत लफ्जों की मोहताज नहीं होती.

ये गुलाबों सा तेरी आँखों का जाम अच्छा है
जिस ख़त में आए तेरा नाम वो पेग़ाम अच्छा है..

Beautiful Eyes Shayari

Beautiful Aankhein Shayari

आँखों पर तेरी निगाहों ने दस्तख़त क्या किए,
हमने साँसों की वसीयत तुम्हारे नाम कर दी.

नशीली आँखों से वो जब हमें देखते हैं,
हम घबरा कर आँखें झुका लेते हैं,
कौन मिलाये उन आँखों से आँखें,
सुना है वो आँखों से अपना बना लेते हैं.

तेरी निगाह दिल से जिगर तक उतर गयी,
दोनों को ही एकअदा में रजामंद कर गई..

आज भी प्यारी हैं मुझे तेरी दी हुई हर निशानी
फिर चाहे वो तेरे दिए गुलाब के फूल हो या मेरी आँखों का पानी..

सागर से गहरी हैं आपकी ये नजरें,
खुशियों की शहनाई हैं आपकी ये नजरें,
हुस्न का जाम हैं आपकी ये नजरें,
छुपायें कई अरमान आपकी ये नजरें,
ले ले न कहीं हमारी जान आपकी ये नजरें..

Nashili Aankhen Shayari

Nashili Aankhen Shayari

मुस्कुरा के देखा तो कलेजे में चुभ गयी,
खँजर से भी तेज़ लगती हैं आँखें जनाब की.

देखा है मेरी नजरों ने
एक रंग छलकते पैमाने का,
यूँ खुलती है आंख किसी की
जैसे खुले दर मैखाने का.

तुम्हारी निगाहें बहुत बोलती है,
जरा अपनी आँखों पे पलके गिरा दो…

उस घड़ी देखो उनका नजारा
नीद सें जब हो बोझल आँखें,
कौन मेरें नयनों मे समाये
देखी है मैने तुम्हारी आँखें..

आँखों की सजा जब तक दीदार ना हो,
दिल की सजा तब तक प्यार ना हो,
यह जिन्दगी भी एक सजा है,
जब तक आप जैसा यार ना हो…

यह मुस्कुराती हुई आँखे
जिनमे रक्स करती है बहार,
शफक की, गुल की,
बिजलियो की शोखिया लिये हुए..

यू ही निकल जाती है रात अजुमन मे,
कुछ तेरी आखो के बहाने कुछ तेरी बातो के बहलाने..

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button